Monday, 17 May 2010

ऍफ़आईआर

प्रथम सूचना रिपोर्ट को ऍफ़आईआर कहते हैंअब तो अपराध कि सूचना पर भी या अपराध हो जाने पर भी या फिर सभी प्रकार कि रिपोर्ट लिखना सरकारी अपराध घोषित कर दिया जाना चाहिएहमारे यहाँ कि पुलिस अब रिपोर्ट नहीं लिखती है और पूरे संसार में बताती है कि उत्तर प्रदेश से अपराध मिट गया हैजब कुछ लिखा ही नहीं जायेगा तो अपराध कहाँ से पैदा होगातो क्या ऍफ़आईआर नहीं लिखी जा रही है ऐसा भी नहीं हैयदि आप को किसी के परिवार या किसी का भविष्य का अंत करना है तो पैसा दीजिये और अपनी ऍफ़आईआर लिखा लीजियेउस अच्छे खासे आदमी को सरकारी आदमी अपराधी बना देता है


आप भी अपनी ऍफ़आईआर लिखा सकते हैं। सभी कि ऍफ़आईआर लिखना भी बताया जायेगा।